Tuesday, 4 February 2014

जापानी शैली तांका में माँ सरस्वती की स्तुति !


(तांका शैली में अक्षर संख्या ..5,7,5,7,7)

माघ पंचमी
शरद शुक्ल पक्ष
वसंतोत्सव !
वागीश्वरी शारदा
होती है माँ की पूजा l

ज्ञानदायिनी
विद्या वुद्धि दायिनी
तम हारिणी!
श्वेताम्बर धारिणी
श्वेत हँस वाहिनीl

वेद शास्त्रादि
नृत्य गीत सभी के  
हो अधिष्ठात्री !
ब्रह्मा शंकर आदि
द्वारा पूजिता देवी l

श्वेतालंकार
शुभ्र वस्त्र धारिणी
वरदायिनी !
प्रभा धृति दायिनी
त्वामहम नमामि l

माँ सरस्वती !
पुस्तक हस्ते देवी
वीणा वादिनी !
तव चरण युगे
त्वमेव नमस्तुते l 


 कालीपद "प्रसाद"
©सर्वाधिकार सुरक्षित

25 comments:

  1. सरस्वती पूजा पर सभी ताँका बहुत सुन्दर एवं भावपूर्ण, बधाई.

    ReplyDelete
    Replies
    1. sabhi tanka bahaut sundar , hardik badhai

      Delete
  2. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete
  3. खूबसूरत हैं सभी ... सुन्दर प्रार्थना माँ सरस्वती के चरणों में ...

    ReplyDelete
  4. बहुत ही सुन्दर प्रस्तुति, माँ सरस्वती पूजा हार्दिक मंगलकामनाएँ !

    ReplyDelete
  5. बहुत सुन्दर वंदना....वसंत पंचमी की हार्दिक शुभकामनायें!

    ReplyDelete
  6. माँ सरस्वती की कृपा हमेशा आप पर बनी रहे

    ReplyDelete
  7. सुन्दर भावाभिव्यक्ति... वसंत पंचमी की हार्दिक शुभकामनाएं…

    ReplyDelete
  8. 5-7- 5-7-7 पंखुरियोंवाले पुष्पों से वाग्देवी की सार्थक वंदना !

    ReplyDelete
  9. माँ सरस्वती को नमन .... सुन्दर प्रार्थना

    ReplyDelete
  10. बहुत सुंदर एवँ भावपूर्ण अंदाज़ में माँ सरस्वती को श्रद्धा सुमन अर्पित किये हैं ! सभी ताँका एक से बढ़ कर एक ! अति सुंदर !

    ReplyDelete
  11. बहुत ही सुन्दर ताँका से माँ सरस्वती कि वंदना...
    बहुत ही सुन्दर...
    बसंत पंचमी कि हार्दिक शुभकामनाएँ....
    http://mauryareena.blogspot.in/
    :-)

    ReplyDelete
  12. आपकी इस प्रस्तुति का लिंक कल चर्चा मंच पर है
    आभार

    ReplyDelete
    Replies
    1. आपका बहुत बहुत आभार दिलबर्ग जी l

      Delete
  13. बहुत सुंदर वन्दना .!
    बसंत पंचमी कि हार्दिक शुभकामनाएँ...
    RECENT POST-: बसंत ने अभी रूप संवारा नहीं है

    ReplyDelete
  14. बड़ी सुन्दर रचना, वसंत पंचमी की हार्दिक शुभकामनायें।

    ReplyDelete
  15. माँ शारदा कृपा करें !
    शुभकामनायें !

    ReplyDelete
  16. खूबशूरत अहसास

    ReplyDelete
  17. बहुत सुंदर शब्दों में माँ की स्तुति की है। बहुत बहुत बधाई आपको

    ReplyDelete

  18. बहुत सुन्दर है रचना के स्वर शब्द चयन। अर्थ सब कुछ। तांका प्रस्तुति लाज़वाब रही।

    ReplyDelete
  19. सुंदर शारदा स्तवन।

    ReplyDelete
  20. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete
  21. Namah Ma Sharde! bahut achha likha hai

    shubhkamnayen

    http://prritiy.blogspot.in/2014/01/mere-mitra-2-2.html

    ReplyDelete
  22. माता सरस्वती के चरणों में प्रणाम !
    बहुत सुंदर तांका लिखे आपने, बधाई !

    ReplyDelete