Saturday, 5 September 2015

नमन दो महान गुरुओं को !




आज का दिन है बड़ा पावन
दुनियां को मिला गीता का ज्ञान,
द्वापर में अवतरित कृष्ण कन्हैया
कलियुग में जन्मे राधाकृष्णन |
जन्माष्टमी में श्रीकृष्ण का जन्म
राधाकृष्ण का है शिक्षक दिवस,
ज्ञान, कर्म, भक्ति योग से
कृष्ण ने किया दुनियां को वस |
श्रीकृष्ण है जगतगुरु
राधकृष्ण है दर्शन गुरु,
राधा मिले द्वापर में कृष्ण  
राधाकृष्ण बने कलि में गुरु |
गीता है ज्ञान, शिष्य है अर्जुन
कृष्ण बना शिक्षक महान
करते वन्दन कृष्ण व राधा को
राधाकृष्ण है भारत की शान |

  कालीपद ‘प्रसाद’
© सर्वाधिकार सुरक्षित

4 comments:

  1. दिनांक 07/09/2015 को आप की इस रचना का लिंक होगा...
    चर्चा मंच[कुलदीप ठाकुर द्वारा प्रस्तुत चर्चा] पर...
    आप भी आयेगा....
    धन्यवाद...

    ReplyDelete
    Replies
    1. आपका आभार कुलदीप ठाकुर जी !

      Delete
  2. श्री कृष्ण और डा० राधाकृष्णन सचमुच नमन योग्य है.

    सार्थक प्रस्तुति.

    ReplyDelete